न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ ने भारत के 50वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली

Justice-DY-Chandrachud

नई दिल्ली: न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ ने भारत के 50वें मुख्य न्यायाधीश (CJI) के रूप में शपथ ली। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज सुबह 10:00 बजे राष्ट्रपति भवन में न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ को शपथ दिलाई।

जस्टिस चंद्रचूड़ 10 नवंबर, 2024 तक CJI के रूप में काम करेंगे। उन्होंने जस्टिस उदय उमेश ललित का स्थान लिया, जिन्होंने 74 दिनों तक न्यायपालिका में शीर्ष पद संभाला था।

गौरतलब है कि न्यायमूर्ति चंद्रचूड़ दिवंगत न्यायमूर्ति वाईवी चंद्रचूड़ के पुत्र हैं। उनके पिता भारत के सबसे लंबे समय तक सेवा देने वाले मुख्य न्यायाधीश थे।

न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ ने भारत के 50वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में ली शपथ : हार्वर्ड लॉ स्कूल से डॉक्टरेट की है पढ़ाई

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ को 50वें सीजेआई के तौर पर शपथ लेने से रोकने की मांग की गई थी। हालाँकि, भारत के तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश यूयू ललित की अध्यक्षता वाली एक पीठ, जिसमें जस्टिस एस रवींद्र भट और जस्टिस बेला एम त्रिवेदी भी शामिल थे, ने यह कहते हुए याचिका खारिज कर दी, “हमें याचिका पर विचार करने का कोई कारण नहीं दिखता है, याचिका गलत है”।

याचिकाकर्ता ने तर्क दिया था कि कुछ “अनियमितताएं, अवैध कार्य” कथित तौर पर न्यायमूर्ति चंद्रचूड़ द्वारा किए गए थे और उन्हें सीजेआई के रूप में नियुक्त नहीं किया जाना चाहिए।

सुप्रीम कोर्ट की बेंच के सामने पेश होते हुए, याचिकाकर्ता ने कहा था कि जस्टिस चंद्रचूड़ की बेंच ने बॉम्बे हाई कोर्ट में एक आदेश से उत्पन्न एक विशेष अनुमति याचिका पर सुनवाई की जिसमें उनका बेटा एक वकील के रूप में पेश हुआ था।

न्यायमूर्ति चंद्रचूड़ ने सेंट स्टीफंस कॉलेज से अर्थशास्त्र में स्नातक की पढ़ाई पूरी की। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से एलएलबी भी किया, और एलएलएम की डिग्री और अमेरिका में हार्वर्ड लॉ स्कूल से डॉक्टरेट की पढ़ाई भी की।

इसे भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट ने सरकारी नौकरियों में ईडब्ल्यूएस कोटा रखा बरकरार

Related posts

35 करोड़ से अधिक किसानों ने वैश्विक खाद्य सुरक्षा की दी चेतावनी

Samdarshi Priyam

बिहार: नालंदा में निर्माणाधीन पुल गिरा, 2 मजदूरों की मौत, कई के मलबे में दबे होने की आशंका

Samdarshi Priyam

Fake Reviews Online Guideline: ई-कॉमर्स साइटों पर नकली समीक्षाओं से लड़ने के लिए दिशा निर्देश 25 नवंबर से प्रभावी

Samdarshi Priyam

Leave a Comment